हार्दिक को कोर्ट की नसीहत, कहा- पूरे देश के लिए काम करो, विशेष समाज के लिए नहीं!!

गुजरात में पाटीदार आंदोलन से चर्चा में आए हार्दिक पटेल को राजस्‍थान हाईकोर्ट जज ने अल्‍टीमेटम जारी करते हुए कहा कि सरदार पटेल ने देश को एक किया था, फिर आरक्षण की लड़ाई सिर्फ एक वर्ग के लिए क्यों लड़ रहे हो? कुछ करना ही है तो देश की एकता के लिए कुछ करो।

जानकारी के मुताबिक हार्दिक पटेल की ओर से राजस्थान हाईकोर्ट जोधपुर में दायर बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका की सुनवाई सोमवार को पूरी हो गई। जस्टिस गोपाल कृष्ण व्यास और जस्टिस जीआर मूलचंदानी की खंडपीठ ने याचिका में फैसला सुरक्षित रख लिया है। हार्दिक पटेल ने राजस्थान सरकार और उदयपुर पुलिस पर नजरबंद करने के आरोप लगाते हुए राजस्थान हाईकोर्ट जोधपुर में याचिका लगाई थी।

‘हार्दिक को किया गया हाउस अरेस्ट’-

भारत सरकार के पूर्व सहायक सॉलिसिटर जनरल रहे गुजरात के वकील आई. एच. सैयद, रफीक लोखंडवाला और दीपक जेठवानी ने हार्दिक की ओर से पैरवी करते हुए कहा कि गुजरात हाई कोर्ट ने हार्दिक को जमानत देते हुए छह माह तक गुजरात से बाहर रहने के आदेश दिए हैं। उदयपुर में हार्दिक अपने अस्थाई निवास में रह रहे हैं, मगर हार्दिक को राजस्थान पुलिस ने हाउस अरेस्ट कर रखा है। किसी से न तो मिलने दिया जा रहा है और न ही कहीं आने-जाने दिया जा रहा है। जबकि सरकार की ओर से पैरवी करते हुए एएजी डॉ पीएस भाटी और एएजी कांतिलाल ठाकुर ने कहा कि हार्दिक का पिछला रिकॉर्ड देखते हुए उसे खुला नही छोड़ा जा सकता है।

बता दें कि हार्दिक ने गुजरात में पाटीदार आंदोलन छेडा था। जिससे गुजरात सरकार के साथ-साथ सार्वजनिक रूप से जान माल की क्षति हुई थी। दोबारा इस तरह की वारदात नहीं हो, इसलिए सरकार सावधानी बरत रही है। साथ ही आंदोलन की वजह से हार्दिक के कई शत्रु हो गए हैं, उनसे उसकी सुरक्षा भी करनी पड़ रही है।

सरकार ने आरक्षण दिया: लोखंडवाला-

खंडपीठ में पैरवी कर रहे लोखंडवाला ने जब यह कहा कि गुजरात सरकार की ओर से आर्थिक रूप से पिछड़े लोगों को जारी किया गया आरक्षण गुजरात हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया है। गुजरात सरकार ने इसे सुप्रीम कोर्ट में चैलेंज किया है। इसी बाबत हार्दिक लोगों से मिलकर चर्चा करना चाहते हैं, लेकिन उसे नहीं मिलने दिया जा रहा है।

सरदार पटेल की तरह देश के लिए लड़ें: कोर्ट-

जस्टिस गोपाल कृष्ण व्यास ने लोखंडवाला से कहा कि यह सब तो वीकर सेक्शन के लिए होना चाहिए। उन्होंने कहा कि आपको मालूम होना चाहिए कि सरदार पटेल ने ही राजस्थान बनवाया, उन्होंने ही पूरे देश को एक करने में जी जान लगा दी। उनके समाज के होकर सिर्फ एक वर्ग विशेष के लिए ही चर्चा करना उचित है क्या? कुछ करना है तो देश की एकता के लिए करना चाहिए। हालांकि कोर्ट ने अभी फैसले की तारीख नही तय की है।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *