महज 100 रुपये और मटन बिरयानी के खातिर महिला ने जलाये 42 बसें।

बंगलुरु: बीते कुछ दिन पहले 12 सितंबर को बेंगलुरु में हुई आगजनी और तोड़फोड़ के मामले में 22 साल की युवती ‘भाग्य’ को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है भाग्य ने कथित रूप से 100 रुपए और मटन बिरयानी के लालच  में 42 बसों को जलाया था, और उसी ने ही लोगों को बसों पर डीजल डालकर उसे को जलाने के लिए भी उकसाया था।

did-a-young-woman-instigate-bangalore-mob-to-burn-kpn-buses-during-cauvery-violenceबेंगलुरु में घटित इस हिंसा और आगजनी के केस में पुलिस ने अबतक 11 लोगों को गिरफ्तारी की है। 12 सितंबर के दिन केपीएन ट्रैवल्स की बसों में सी भाग्य ने आग लगा दी थी। ट्रैवल्स के कर्मचारियों ने सी भाग्य की विडियो भी बनाई जिसमें पुलिस ने यह पाया कि आगजनी के लिए सी भाग्य ने लोगों को उकसाया था। सीसीटीवी फुटेज में भी सी भाग्य गाड़ियों पर डीजल डालती दिख रही है।

kpn-buses-ptiइस घटना पर भाग्य की मां ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि उनके कुछ जानकार नें इस प्रदर्शन में शामिल होने के लिए मटन बिरयानी और 100 रुपए का लालच दिया था। केपीएन गैरेज के पास ही भाग्य अपने पूरे परिवार के साथ रहती है। मजदूरी करके वह अपने घरखर्च चयाला करती थी।
पुलिस ने बताया कि आगजनी की फुटेज में और भी महिलाएं हैं लेकिन यह साफ नहीं है कि उन्होंने तोड़फोड़ में भाग लिया था या नहीं। गिरफ्तार किए गए लोगों में भाग्य अकेली महिला है। इस समय वह पुलिस कस्टडी में है और पुलिस की पूछताछ जारी है। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि अभी यह साफ तौर पर नहीं कहा जा सकता कि भाग्य ही प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व कर रही थी।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *